About Website

This website is dedicated to Param Pujya Gurudev Shri Jain Diwakar Muni Chauthmal Ji Maharaj Saheb. If you have any suggestions or content suitable to publish then please forward us.

10 Famous Jain temples in India | भारत के सबसे प्रसिद्ध जैन मँदिर!

New Delhi World Book Fair 2023

विश्व पुस्तक मेला 2023 में आज 03.03.2023 को श्री ऑल इंडिया स्थानकवासी जैन कान्फ्रेंस के स्टाल पर जैन दिवाकर जगत वल्लभ प्रसिद्धवक्ता पूज्य गुरुदेव श्री चौथमल जी महाराज सा. के अनमोल साहित्य, ग्रंथ, भजन संग्रह का प्रदर्शन __ निःसंदेह पुस्तकें ज्ञान का भंडार व अनमोल होती हैं। पुस्तकें हमारी सबसे अच्छी मित्र भी होती हैं। पुस्तकें हमारा मार्गदर्शन व प्रोत्साहन करती हैं। पुस्तकों द्वारा ही महापुरुषों/विद्वानों के विचार अमर हो जाते हैं। उनका ज्ञान, उपदेश सदैव जीवित रहता है।

विश्व पुस्तक मेलों का आयोजन मुख्यतः लोगों में पुस्तकों के प्रति रुचि पैदा करने के लिए होता है। जिनका हमारे जीवन में बहुत लाभ है। श्री ऑल इंडिया स्थानकवासी जैन कान्फ्रेंस के विश्व पुस्तक मेला 2023 के स्टॉल पर श्रमण संघ के निर्माण में प्रमुख भूमिका रखने वाले जन जन की आस्था के केंद्र जैन धर्म को झोंपड़ी से महलों तक रंक से राजा तक जैन धर्म को जन धर्म बनाकर उपदेशों के माध्यम से पशु बलि , वैश्यावृत्ति को रोकने वाले जैन दिवाकर जगतवल्लभ प्रसिद्धवक्ता पूज्य गुरुदेव श्री चौथमल जी महाराज साहब के प्रवचनों का संकलन व उनके द्वारा रचित काव्य, भजन निग्रंथ प्रवचन आदि आदि साहित्य ग्रंथ रूप में * प्रदर्शित किया गया है।उक्त जानकारी श्री वीरेन्द्र सिंह जी धाकड़,कार्याध्यक्ष अखिल भारतीय श्री भगवान जैन दिवाकर अहिंसा सेवा संघ ट्रस्ट द्वारा दी गई। आपने बताया कि इस हेतु श्रुत संवर्धन समिति के चेयरमैन श्री रमेश जी भंडारी एवम संयोजक डॉ श्री अमित राय जी जैन के हृदय से आभारी हैं।


Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *